Pandit Pradeep Mishra Biography in Hindi | पंडित प्रदीप मिश्रा जीवन परिचय

नमस्कार दोस्तों आज हम इस पोस्ट में (Pandit Pradeep Mishra Biography in Hindi) श्री पंडित प्रदीप मिश्रा का जीवन परिचय देखने वाले है। आप को पंडित जी की हर एक बातो से अवगत करवाया जाएंगा। पंडित जी जो की एक कथा वाचक जो भागवत गीता और महा शिव पुराण के बारें में बताते है। आप आज उनके भजन (bhajan), कथाएं, fees, totke (टोटके), उपाय (Upaye), पत्नी (wife) उनके परिवार (family) और भी उनसे जुड़ी हुई बातो को आज आप जानेंगे।

Pandit Pradeep Mishra Biography In Hindi (जीवन परिचय)

Pandit Pradeep Mishra Biography
Pandit Pradeep Mishra Biography in hindi

प्रदीप मिश्रा भारत और दुनिया के एक जाने-माने कथावाचक और भजनकार है। वह अपने भजन के माध्यम से लोगों को सही राह पर चलने के लिए प्रेरित करते हैं। कई सारे कथावाचक है जैसे अनुरुधाचार्य, देवकीनंदन ठाकुरजी, और भी कई सारे कथावाचक है पंडित प्रदीप जी मिश्रा उन ही में से एक है जिन्होंने आपने कथाओं के माध्यम से करोड़ों लोगो के बीच में अपनी जगह बनाई। इन्होने शिव पुराण और श्रीमतभागवत से अपनी प्रसिद्धि प्राप्त की थी।

असली नामपंडित श्री प्रदीप मिश्रा
जन्म तारिक27 सितंबर 1989
Age42 वर्ष (2022) में
जन्म स्थानसीहोर, मध्य प्रदेश
पिता श्री रामेश्वर दयाल जी मिश्रा
कार्यकथा वाचन
धर्महिन्दू [ब्राम्हण]
Height5.9 इंच
Weight75 Kg
Foundationविट्ठलेश सेवा समिति, सीहोर

पंडित प्रदीप मिश्रा जी का जन्म मध्यप्रदेश के सीहोर जिले में सन 1980 में हुआ था। उनका बचपन बढ़ ही सामान्य था, उनके पिताजी चने का ठेला लगाते थे। वे एक ब्राह्मण घर में पैदा हुए थे। उन्हें कथा का पहले से ही शोक था वे उनके रिश्ते डरो के यहां कथ सुनने जाते थे। पंडित मिश्रा जी ने अपनी स्कूली शिक्षा अपने जन्मस्थान सीहोर से प्राप्त किया है और उसके बाद इन्होंने स्नातक की डिग्री भी हासिल की है। इसके अलावा इन्होंने हिंदू धर्म शास्त्रों का गहन अध्ययन किया है।

उन्होंने अपनी पढ़ाई पूरी कर के एक शिक्षक बने, और उनके विद्यार्थी आज सरकारी नौकरी कर रहे है और अन्य क्षेत्रो मेसम्मघ्न है। इन्होने अपनी कथाओं से इतने प्रचिलित हुए की आज उन्होंने अपना नाम गिनीस बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कर लिया है। पंडित जी सीहोर वाले बाबा के नाम से परचलित है। यह अपने टोने टोटको के वजह से भी फेमस हुए है। इनकी कथाएं आप को youtube पर (pandit Pradeep ji Mishra Sehore Wale) youtube चैनल पर और आस्था चैनल पर सुनने को मिलती है।

Pandit Pradeep Mishra Ji Family | पंडित प्रदीप मिश्रा जी का परिवार

पंडित प्रदीप मिश्रा जी का जन्म मध्यप्रदेश के सीहोर जिले में सन 1980 में हुआ था। उनके पिता रामेश्वर दयाल मिश्रा है। उनके पिताजी अब इस दुनिया में नहीं रहे। पंडितजी की माता का नाम श्रीमति सीता मिश्रा है। पंडित जी दो भाई है जिनका नाम विनय मिश्रा और दीपक मिश्रा है। पंडित जी धर्मपत्नि एक घ्रहणी है। इनके दो पुत्र है, जिनका का नाम राघव मिश्रा तथा माधव मिश्रा है। पंडित जी एक शिक्षक भी रहा चुके है। इनके विद्यार्थी अभी सरकारी नौकरी व अन्य क्षेत्रो में सम्मघ्न है।

Pandit Pradeep Mishra Fees | पंडित प्रदीप मिश्रा फीस

प्रदीप मिश्रा भारत और दुनिया के एक जाने-माने कथावाचक और भजनकार है। वह अपने भजन के माध्यम से लोगों को सही राह पर चलने के लिए प्रेरित करते हैं। उनका भजन सुने के लिए श्रद्धालुओं के भिड़ी उमड़ पड़ती है। वे अपनी कथा के माध्यम से करोड़ों लोगों को सही राह दिखाते है। जो कोई भी उन्हें अपने यह कथा पर बुलाना चाहता है।

किंतु उन्हें यही नहीं पता की वे अपनी एक कथा की कितनी फीस लेते है। पंडित जी अपनी एक भजन या कथा के लाखो रुपय लेते है। वे लाखो रुपए इस लिए लेते है क्यों की उनके जो भक्त जन रहते है जितने भी श्रद्धालु है। Pandit Pradeep Mishra Biography in Hindi उन्हें कथा के दौरान कोई समस्या न होनी चाहिए इसलिए उनकी बैठक वैवस्था, भोजन, उद्याधी में खर्च करते है। पंडित उन पैसे में से एक भी रूपेय नही लेते है।

लगभग 20 वर्ष पूर्व सबसे पहली कथा अग्रवाल परिवार में भोजन बनाने वाली महिला के संकट को दूर करने के लिए सुनाई थी। इस कथा में महाराज जी को केवल 51 ₹ दक्षिणा प्राप्त हुई थी। इस कथा में वे गिनती एक स्त्रोता भी रहे थे। इस के बाद बड़े बड़े शहरों के साथ गांव में भी नानिमाकमायरा और श्रीमतभागवत कथा का वाचन किया।

Pandit Pradeep Mishra Ki Shiv Puran | पंडित प्रदीप मिश्रा जी की शिव पुराण

पंडित प्रदीप मिश्रा जी के शिवपुराण को श्रद्धालुओं के द्वारा बहुत पसंद किया जाता है। कहा जाता है कि जब महाराज जी ने कथावचन करना शुरू किया था। तब वे नानिमाकमायरा और श्रीमतभागवत का पाठ करते थे। तत्पश्चात श्रद्धालुओं के कहने पर उन्होंने शिव पुराण का भी वाचन करना शुरू किया।

लोग द्वारा उनके शिव पुराण को बहुत ही पसंद आनी लगी भक्तजन महाराज जी के शिव पुराण को ही ज्यादा तर सुनना पसंद करते थे, हालाकि वे नानिमाकमायरा और श्रीमतभागवत का भी पाठ करते थे परंतु वे शिवपुराण का ज्यादा पाठ करते थे। शिवपुराण के अनेकों गहरे रहस्यों को पंडित जी ने उजागर किया। और शिव के प्रति करोड़ों लोगो के मन में भाव उत्पन्न किया।

Pandit Pradeep Mishra Ke Totke | पंडित प्रदीप मिश्रा सीहोर वाले के टोटके और उपाय 2022

  • छोटी बेलपत्र जलाधारी के अंदर चढ़ावे इससे संपत्ति की प्राप्ति होती है।
  • लिंग पर एक बेलपत्र चढ़ाने से जनम-मरन का फेरा छूटेगा।
  • गणेश चतुर्थी के दिन शिव मंदिरों में दीपदान करने से कुबेर की प्राप्ति होती है।
  • तीन बेल पत्र चढ़ाने से घर में समृद्धि वैभव होगा
  • श्रावण के सोमवार से बरस भर हर सोमवार को 108 बेल पत्र चढ़ाने से अधिक से अधिक अच्छे कर्म होंगे। अपार लक्ष्मी प्राप्तहोगी
  • लोटे में पानी, दूध और पीपल के 5 पत्ते डालकर हार्टअटेक आने वाले व्यक्ति पर से सात बार उतारें और पीपल के वृक्ष में डाल दें तो व्यक्ति जल्दी ठीक होजाता है।
  • देवरानी-जैठानी, बाप-बेटा अलग हों तो एक रुद्राक्ष की माला शिव जी को चढ़ाएँ क्लेश मिट जाता है। बच्चे होशियार होते है।
  • बड़ी बेलपत्र पर लाल चंदन लगाकर चढ़ाएं तो इस उपाय से लक्ष्मी जी की प्राप्ति होगी।
  • यदि आपका भी बच्चा बहुत शरारती है तथा तंग करता है। बाजरे की दो रोटियों को एक साइड से सेके एक रोटी पर गुड़ चावल तथा बेलपत्र रखकर उसे दूसरी रोटी से ढक दें।

Pandit Pradeep Mishra Contact Number And Whatsapp Number

आप को अगर पंडित प्रदीप जी मिश्रा से contact करना है तो नीचे दिए गए लिंक से आप उसने contact कर सकते है। आप यहां उनके सारे contact लिस्ट आपको देखने को मिल रही हैं।

Email [email protected]
Instagram check here
Twitter check here
Facebookcheck here
YouTube check here
Contact Number 7000712991
Pandit Pradeep Mishra की फीस कितनी है?

Aniruddhacharya Ji भागवत कथावाचन करने के लिए 1 दिन का 1 लाख से ज्यादा पैसे लेते है और कथा 7 दिनों तक चलती है।

पंडित प्रदीप जी मिश्रा की कथा कौनसे चैनल पर आती है?

पंडित प्रदीप जी मिश्रा का प्रवचन आस्था चैनल पर आता है।

पंडित प्रदीप जी मिश्रा महाराज कितने पढ़े लिखे हैं?

पंडित प्रदीप जी मिश्रा ने स्नातक की डिग्री प्राप्त की है।

आशा करते है की आप को हमारा यह Pandit Pradeep Mishra Biography in hindi पोस्ट पसंद आया होगा comment करके जरूर बताये।

Leave a Comment