Aniruddhacharya Ji Biography in Hindi – श्री अनिरुद्धाचार्य

Aniruddhacharya Ji Biography in Hindi

स्वागत है दोस्तों आज के हमारे इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे Shri Aniruddhacharya Ji Bio in hindi अगर आप भजन, भागवत कथा, प्रवचण और भक्ति गीत आदि में रूचि रखते है तो अपने आचार्य जी को YouTube में जरूर देखा होगा। इनकी कथाएँ काफी प्रचलित हो चली है।

अनिरुद्धाचार्य जी की प्रवचण सुनने के लिए लोगो की भिड़ उमड़ जाती है। इनकी कथाये सुनकर काफी लोगो के जीवन में परिवर्तन आया है। और इनका सुझारू स्वभाव लोगो को अत्यधिक पसंद आता है।

श्री अनिरुद्धाचार्य का व्यक्तित्व अत्यंत हे प्रेरणादायी है। वे बहुत अच्छे वक्ता है साथ ही जीवन को सुखमय बनाने के तरीके पुराणों के अनुसार बताते रहते है। सरलता, सहजता और भक्ति का महत्व बताया है।

उनका किसी खण्ड काव्य को समझाने का अंदाज निराला है। आप इनका प्रवचण साधना चैनल पर लाइव देख सकते है।

Aniruddhacharya Ji Biography in Hindi | अनिरुद्धाचार्य जीवन परिचय

महाराज अनिरुद्धाचार्य जी का जन्म 27 सितंबर 1989 को जबलपुर मध्यप्रदेश भारत में हुआ था। उनके माता-पिता अध्यात्म से जुड़े हुए थे। और बचपन से ही वह भी अध्यात्म में रूचि रखते थे। छोटी से उम्र में उन्होंने हनुमान चालीसा कंठस्थ कर लिए था।

श्रीमद भगवद और रामचरितमानस जैसे ग्रन्थ और पुराण का अध्ययन कर लिया था। अपनी स्कूल की शिक्षा प्राप्त करने के पश्च्यात वे वृन्दावन चले आये और बाद में उन्होंने संत गिर्राज शास्त्री महाराज से दीक्षा प्राप्त की तथा सनातन धर्म का प्रचार करने लगे।

असली नाम श्री अनिरुद्धाचार्य
जन्म तारिक 27 सितंबर 1989
Age 32 वर्ष
जन्म स्थान दमोह जिले के रिंवझा ग्राम में
गुरु श्री गिर्राज शास्त्री जी महाराज
कार्य कथा वाचन
धर्म हिन्दू [ब्राम्हण]
Height 5.9 इंच
Weight 68 Kg
Foundation गौरी गोपाल वृद्धा आश्रम

इसके आलाव अनिरुद्धाचार्य जी की पत्नी (wife) है जिनको लोग गुरु माँ भी कहते है। और आचार्य जी के दो बेटे भी है। गुरु माँ भी भजन इत्यादि जा गायन करती है। और वह अपने माता-पिता के साथ रहते है तो उनका 6 सदस्यों का परिवार (family) है।

Aniruddhacharya Ji Mobile Number Aur Social Media Accounts

अगर आप महाराज जी से संपर्क करना चाहते है। तो उनके सही सोशल मीडिया एकाउंट्स और फ़ोन नंबर आपको बता रहे है।

Facebook Click Here
InstagramClick Here
Twitter Click Here
YouTube Click Here
Email[email protected]
Websiteshrigougourigopalsevasanstha.com
Mobile Number6399991599, 6399991699, 6399991799

अनिरुद्धाचार्य जी के बारे में कुछ तथ्य | Facts About Aniruddhacharya Ji

  • श्री अनिरुद्धाचार्य महाराज ने अपना YouTube Channel अपने जन्मदिन के 2 दिन पश्यात Sep 29, 2017 को शुरू किया था।
  • आचार्य जी 600 से भी ज्यादा कथाएं देश विदेश में कर चुके है।
  • उन्होंने गौरी गोपाल वृद्धा आश्रम बूढी माताओ के लिए शुरू किया है।
  • महाराज जी की ज्यादातर कमाई वृद्ध माताओ की सेवा में चली जाती है।
  • शास्त्रों में रूचि होने के कारन बचपन में ही उन्होंने रामचरितमानस व श्रीमद भगवद याद कर ली थी।
  • बचपन में महाराज जी आर्थिक स्तिथि सही नहीं थी अतः वे 15 हज़ार की लागत से बने हुए घर में रहते थे।
  • स्वामी जी के पिताजी एक मंदिर में पुजारी थे।
  • बचपन में स्वामी जी की छोटी बेहेन का देहांत हो गया था।

Aniruddhacharya Ji Ke Pravachan

अनिरुद्धाचार्य जी FAQ’s

Aniruddhacharya Ji की फीस कितनी है?

Aniruddhacharya Ji भगवत कथावाचन करने के लिए 1 दिन का 1 लाख से ज्यादा पैसे लेते है और कथा 7 दिनों तक चलती है।

अनिरुद्धाचार्य जी महाराज कितने पढ़े लिखे हैं?

महाराज जी ने आर्थिक स्तिथि ख़राब होने के कारन स्कूली शिक्षा प्राप्त नहीं की। वे वृन्दावन आ गए और उन्होंने संस्कृत भाषा में अपनी शिक्षा पूर्ण की।

अनिरुद्धाचार्य जी का असली नाम क्या है?

महाराज जी का असली नाम अनिरुद्धाचार्य ही है।

महाराज Aniruddhacharya Ji की कथा कौनसे चैनल पर आती है?

स्वामी जी का प्रवचण Shadhna Channel पर आता है।

अंतिम शब्द

स्वामी जी का जीवन आसान नहीं था। उन्होंने अपने जीवन में कभी भी हार नहीं मानी और मुश्किलों से लड़ते रहे है। उनका जीवन परिचय हमारे लिए अत्यंत प्रेरणादायी है। उन्होंने युवाओ को सही दिशा में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया और आत्म निर्भरता बनने के लिए कहा है।

देश में चल रही परेशानियों को समझ कर उनके निराकरण के लिए सतत प्रयास करते रहते है। और उनका यह संकल्प है की वह अपने सपनो का भारत बनाना चाहते है।

भारतीय संस्कृति और सनातन धर्म को प्राथमिकता देना और उनका प्रचार प्रसार करना ही गुरूजी का उद्देश्य है। भारतीय संस्कृति की धरोहर संभालने के लिए गुरूजी का योगदान देश हमेशा याद रखेगा।

आशा करते है आपको Aniruddhacharya Ji Biography in Hindi आर्टिकल पसंद आया होगा।

Leave a Comment